Loading...
Sun, Dec 04, 2022
Breaking News
image
आने वाले समय में और बढ़ सकते हैं दाम /14 Oct 2022 07:35 PM/    32 views

करवाचौथ पर बिका 3000 करोड़ से ज्यादा का सोना

नई दिल्ली। पिछले साल की तुलना में सोने की कीमतों में इजाफा होने के बावजूद सोने की चमक में कोई कमी नहीं आई है, पिछले साल करवाचौथ के मुकाबले इस साल सोना 3,400 रुपए प्रति 10 ग्राम महंगा हुआ है, इसके बावजूद सोने की खरीद पिछले करवाचौथ  पिछले साल की तुलना में सोने की कीमतों में इजाफा होने के बावजूद सोने की चमक में कोई कमी नहीं आई है, पिछले साल करवाचौथ के मुकाबले इस साल सोना 3,400 रुपए प्रति 10 ग्राम महंगा हुआ है, इसके बावजूद सोने की खरीद पिछले करवाचौथ की तुलना में काफी ज्यादा बढ़ी है। इस साल करवाचौथ के मौके पर देश भर में 3000 करोड़ रुपए का सोना बिका है, जो पिछले साल के मुकाबले कहीं ज्यादा है। पिछले साल करवाचौथ के दिन करीब  2,200 करोड़ रुपए का ही सोना बिका था।
आने वाले समय में बढ़ सकते हैं सोने के दाम
कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स और छोटे ज्वेलर्स के बड़े संगठन ऑल इंडिया ज्वेलर्स एंड गोल्डस्मिथ फेडरेशन ने एक ज्वाइंट प्रेस रिलीज जारी की है। इस रिलीज में करवाचौथ पर सोने और चांदी की खरीद के अलावा आने वाले समय में सोने की कीमत बढ़ने की संभावना को भी बताया गया है। कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल के अनुसार धनतेरस, दिवाली, से लेकर 14 नवंबर तक शादियों का सीजन रहता है, इस कारण से सराफा बाजार गुलजार रहते हैं लेकिन वैश्विक स्तर पर भू-राजनीतिक की वजह से आने वाले समय में सोने के दाम बढ़ सकते हैं।
करवाचौथ पर सोने-चांदी की जमकर खरीददारी
वहीं ऑल इंडिया ज्वेलर्स एंड गोल्ड स्मिथ फेडरेशन के मुताबिक इस साल सोने की खरीद में लोगों का काफी उत्साह देखने को मिला है। कोरोना के कारण साल 2020 और 2021 में सराफा बाजार में काफी सुस्ती देखने को मिली थी लेकिन इस साल सभी तरह की पाबंदियां हटने के बाद लोगों में सोने की खरीद को लेकर लोग काफी उत्साहित दिखे। सराफा बाजार में काफी भीड़ उमड़ी है और लोगों ने जमकर सोने और चांदी की खरीद की है।
 
इन आभूषणों की ज्यादा मांग
 ऐआईजेजीएफ के राष्ट्रीय अध्यक्ष पंकज अरोड़ा के मुताबिक, टियर-2 और टियर-3 शहरों में हर बार की तरह ब्राइडल रिंग, चेन, चूड़ी, मंगलसूत्र की मांग ज्घ्यादा रही है, वहीं चांदी में पाज़ेब, बिछुआ, हाफ कमरबंद आदि की काफी मांग रही। सोने-चांदी के पारंपरिक गहनों के स्टॉक के साथ नए डिजाइन की भी मांग बढ़ी है।

Leave a Comment