Loading...
Mon, Nov 29, 2021
Breaking News
image
खिलाड़ियों के लिए धन आवंटित किए जाने पर जवाबदेही कौन /07 Sep 2021 04:15 AM/    249 views

सुप्रीम कोर्ट ने खिलाड़ियों के लिए सुविधाएं बढ़ाने की मांग वाली याचिका पर सुनवाई से इंकार किया

सोनिया शर्मा
 
नई दिल्ली ।  शीर्ष अदालत ने मंगलवार को खिलाड़ियों के लिए सुविधाएं बढ़ाने की मांग वाली एक याचिका पर विचार करने से इंकार कर दिया। अदालत ने कहा कि इस मामले में आदेश से कुछ होना संभव नहीं है। ऐसे में या तो क्या आप याचिका वापस ले लें या फिर हम इसे खारिज कर देंगे। इससे पहले याचिकाकर्ता ने अदालत से खिलाड़ियों के लिए सुविधाएं बढ़ानेए उनके लिए नए प्रशिक्षण ढांचे और कोष उपलब्ध कराने का अनुरोध किया गया था। न्यायमूर्ति यू यू ललितए न्यायमूर्ति रवींद्र भट्ट और न्यायमूर्ति बेला एम त्रिवेदी की एक पीठ ने कहा कि वह इन मुद्दों से अवगत हैं पर इस मामले में सरकार के लिए कोई निर्देश जारी नहीं किये जा सकते हैं। पीठ ने याचिकाकर्ता से पूछा  आप खेल क्षेत्र से हैं इसके लिए व्यक्ति में स्व.प्रेरणा होनी चाहिए। मीराबाई चानू मैरी कॉम जैसे लोग भी हैं जो विपरीत हालातों के बाद भी उठे और चमके।
पीठ ने याचिकाकर्ता को संबंधित अधिकारियों के समक्ष आवेदन देने की छूट देने से भी इंकार कर दिया और कहा कि कोई इसमें विवाद या व्यक्तिगत कारण नहीं है। न्यायालय ने कहा हमारे  भी समान विचार हैं सहानुभूति भी है। याचिकाकर्ता को याचिका वापस लेने की अनुमति दी जाती है। वहीं याचिकाकर्ता अधिवक्ता विशाल तिवारी ने अपनी याचिका में  कहा कि खिलाड़ी कई दशक से ओलंपिक में भाग लेते आ रहे हैं पर  परिणाम संतोषजनक नहीं हैं और खिलाड़ियों को केंद्र तथा राज्यों द्वारा समर्थन और सुविधाएं दी जानी चाहिए। याचिका में कोष का मनमाने तरीके से आबंटन किये जाने का आरोप लगाते हुये खिलाड़ियों के लिए धन आवंटित किए जाने पर जवाबदेही तय करने के सरकार को निर्देश देने का भी अनुरोध किया गया था
 

Leave a Comment