Loading...
Sun, Dec 04, 2022
Breaking News
image
चुनाव लड़ने की कोई इच्छा नहीं /24 Sep 2022 04:04 AM/    33 views

चंपारण मेरी मातृभूमि इसकी सेवा करता रहूंगा : मनोज वाजपेयी

बेतिया । बालीवुड अभिनेता मनोज बाजपेयी शुक्रवार को गौनाहा स्थित अपने पैतृक गांव बेलवा पहुंचे और वहां यहां उन्होंने कई कार्यक्रमों में हिस्सा लिया। उन्होंने कहा कि उन्हें राजनीति में जाने में कोई दिलचस्पी नहीं है, लेकिन वह चंपारण के विकास में अपना योगदान देते रहेंगे। मनोज वाजपेयी ने कहा चंपारण मेरी जन्मभूमि है। यहां का हर संभव विकास हो, यही मेरी इच्छा है। इसमें मैं अपने स्तर पर योगदान देने का प्रयास कर रहा हूं।  मनोज बाजपेयी ने बताया कि हाल में ही में डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव से मिलकर बेतिया में एक नाट्य विद्यालय खोलने  की मांग की थी। जिसे मीडिया वालों ने राजनीति से जोड़कर चुनाव लड़ने का वीडियो वायरल कर दिया था, लेकिन इसमें कोई सच्चाई नहीं है। मुझे राजनीति में जाने की कोई दिलचस्पी नहीं है। उन्होंने कहा, चंपारण की मिट्टी में पला बढ़ा हूं इसलिए मेरा नैतिक कर्तव्य है कि मैं इस क्षेत्र के विकास के लिए कार्य करता रहूं। उन्होंने कहा कि इसके लिए मैं आगे भी संघर्ष करता रहूंगा। मनोज बाजपेयी ने कस्तूरबा कन्या उच्च माध्यमिक विद्यालय श्रीरामपुर भितिहरवा में अपने पिता स्वर्गीय राधाकांत बाजपेयी की स्मृति में स्थापित पुस्तकालय का शिलान्यास किया। यहां उन्होंने अपने संबोधन में कहा, मेरे पिता एक बहुत बड़े सामाजिक आदमी थे। उन्होंने हम सभी 6 भाइयों को कर्ज लेकर पढ़ाया था। हमने गरीबी को बहुत नजदीक से देखा है।
अपने गांव के बेलवा कन्या विद्यालय की चर्चा करते हुए मनोज बाजपेयी ने कहा, उस विद्यालय के बच्चे और बच्चियां हमसे बेलवा आवास पर आकर मिले थे। उनकी समस्याएं जायज थीं लिहाजा उन्होंने मौके पर मौजूद प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी से जांच कर कार्रवाई करने की बात कही। बाद में मनोज बाजपेयी ने विद्यालय परिसर में दो आम के पौधे भी लगाए। इस मौके पर एमएलसी सौरभ कुमार के साथ साथ कई गणमान्य लोग और प्रशासनिक पदाधिकारी भी मौजूद रहे।
 

Leave a Comment